November 28, 2022
Law

हाल फिलहाल में ही बिहार पुलिस ने किसी नाबालिक बच्चे को गिरफ्तार किया जिसकी उम्र महज 8 वर्ष था।

किसी भी बालक को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकती है जिसकी उम्र 18 वर्ष से कम है। ऐसे व्यक्ति बालक की श्रेणी में आता है।

ऐसे व्यक्ति को जो निरुद्ध करेगा वह किशोर पुलिस और किशोर

पुलिस उस व्यक्ति/उस बालक को सादा वर्दी के अंदर उस बालक

को निरुद्ध कर सकती है।

इसके अलावा उसके साथ उस बालक के साथ प्यार से, दुलार से पेश

आएगी। तेज आवाज में नहीं बात कर सकते हैं किसी भी बालक के

साथ यही कानून का नियम है।

क्योंकि जो juvenile justice act है इसके तहत एक बच्चा निर्दोष है जिसकी उम्र 18 वर्ष से कम है।

इस कानून के अंदर ही यह बात लिखा गया है कि वह बच्चा निर्दोष है।

इसके साथ आपको प्यार से देखभाल करते हुए नजर आना है सुप्रीम कोर्ट का भी यही जजमेंट है।

किसी भी नाबालिक के बच्चे के साथ आपको प्यार से पेश आना है और वर्दी को दूर ही रखना है।

वास्तविक कंफर्मेशन नहीं है कि खबर सही या गलत अगर सही है तो मुझे लगता है बिहार पुलिस बड़ी गलती कर रही है।

क्योंकि यह बिल्कुल गैरकानूनी है बच्चे के साथ क्रूरता की जा रही है ।

अगर कोई पुलिस नाबालिक बच्चे के साथ क्रूरता से पेश आता है तो  सेक्शन75J.J Act  के तहत 3 साल तक की जेल और एक लाख रूपये तक का जुर्माना हो सकता या दोनों ही हो सकता है।l

ऐसे नाबालिक बालक को पुलिस ने अगर अपनी कैद में रखा है तो

पुलिस ने IPC सेक्शन 342 का भी अपराध किया है।

इसके बाद ऐसे पुलिसकर्मी आईपीसी 166 और आईपीसी 166a  का भी अपराध किया है।

अगर आपके बच्चे के साथ भी कोई पुलिस ऐसा  ही करता है तो थाने में तो देना ही चाहिए इसकी शिकायत।

लेकिन आप आपके क्षेत्र के अंदर कमेटी बनी हुई है बच्चों की किशोर

बोर्ड की कमेटी उस कमेटी की सदस्य के पास आप अपनी शिकायत

कर सकते हैं।

पूरी जानकारी देखने के लिए यहां क्लिक करें 👉 पुलिस वर्दी में किसी बच्चे को गिरफ्तार नहीं कर सकती है।

अगर आप भी घर बैठे पैसे कमाना चाहते हैं इसे जरूर पढ़ें 👉 पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *