पुलिस F.I.R दर्ज नहीं करे तो क्या करें ? : What To Do If The Police Do Not Register The F.I.R? » Br Breaking News
December 7, 2022
बच्चे ने क्राइम किया तो पुलिस क्या करेगी ?

दोस्तों यह बहुत ही साधारण सी समस्या है यदि कोई व्यक्ति थाने पर शिकायत करने जाता है तो कई बार पुलिस वाले ऐसे व्यक्ति की F.I.R को दर्ज नहीं करते हैं।

F.I.R क्या है ?

F.I.R का पूरा नाम First Information Report होता है । जिसमें किसी भी संज्ञेय अपराध के बारे में सूचना प्राप्त करने पर पुलिस अधिकारियों द्वारा तैयार की गई एक प्रलेखित रिपोर्ट होता है जिसे-प्रथम सूचना रिपोर्ट कहा जाता है।

थाने पर जानें के बाद F.I.R दर्ज तो नहीं करते कई बार बदतमीजी

भी कर लेते हैं कुछ ऑफिसर  तो गाली-गलौज तक कर देते हैं। तो

ऐसी स्थिति के अंदर हमें क्या करना चाहिए ।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि यदि कोई कॉग्निजेबल ऑफेंस की सूचना

प्राप्त होती है किसी पुलिस थाने को तो उस पुलिस ऑफिसर कि

ड्यूटी होती है कि F.I.R को दर्ज करें।

जो पुलिस F.I.R दर्ज नहीं करता है उसके खिलाफ कौन सी कार्रवाई होगा ?

जो पुलिस  ऑफिसर F.I.R दर्ज नहीं कर रहा है उसके खिलाफ IPC Section 166 और IPC Section 166a के तहत कार्रवाई की जा सकती है। सुप्रीम कोर्ट का यह आदेश है।

क्या चक्कर है सुप्रीम कोर्ट के इतने कहने के बाद भी F.I.R दर्ज नहीं हो रहा है ?

सुप्रीम कोर्ट यह कहता है कि यदि किसी मामले की सूचना दर्ज

करवानी है तो आपको  व्यवस्थित आना होगा यानी आपको सीढ़ी

बाय सीढ़ी चलना होगा।

कहने का तात्पर्य यह है कि हम सीधे कोर्ट में जाकर F.I.R दर्ज नहीं

करा सकते हैं प्रोसेस फॉलो करना जरूरी है।

एक व्यक्ति जिसकी F.I.R दर्ज नहीं हो रही है वह जाता है शिकायत

करने के लिए थाने पर अपनी F.I.R को दर्ज करवाना चाहता है वह।

पुलिस ऑफिसर ने इंकार कर दिया F.I.R दर्ज करने से

 

 थाने पर जाने के बाद पुलिस ऑफिसर F.I.R दर्ज करने से इंकार कर दे तो क्या करेंगे ?

अब हमारा दूसरा स्टेप है हम अपनी शिकायत को अपने जिले के S.P के पास पेश करेंगे। जो आवेदन हमने लोकल थाने में दिया था उसी कंटेंट के साथ S.P साहब को शिकायत पत्र देंगे।

आप यह आवेदन पत्र अपने S.P  साहब को दे दें किसी वकील के माध्यम से इसे लिखवा कर पेश कर सकते हैं।

एसपी साहब के पास आवेदन पेश करके f.i.r. लिखवा सकते हैं।

जब भी कोई F.I.R थाने पर दर्ज करवाने जाए तो उसको फोटो कॉपी जरूर करवाएं।

कार्ट में F.I.R दर्ज कैसे कराएं ?

156(3) C.r P.C के तहत जो लोकल थाने में F.I.R दर्ज नहीं हुआ हुआ था उसको दर्ज कराने के लिए कोशिश करते हैं। अपने इस्तिखा पेश करते हैं।

यहां पर आप अपने सारे दस्तावेज प्रस्तुत करते हैं जो आपने लोकल थाने पर दिए थे, और जो आपने S.P साहब को दिए थे ।

तो सीधे कोर्ट संबंधित लोकल थाने को डायरेक्ट करता है मामले के जांच के लिए।

जैसे ही संबंधित थाने को डायरेक्ट किया तुरंत F.I.R दर्ज होगा कोर्ट में। यहां पर आप का F.I.R 100% दर्ज हो जाएगा।

#.अधिक जानकारी के लिए इस वीडियो को जरूर देखें 👉 देखें

*बच्चे ने क्राइम किया तो पुलिस क्या करेगी ? 👉 जानें 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *