December 10, 2022
Uric Acid Stone: यूरिक एसिड स्टोन क्या है? लिवर हो सकता है डैमेज! जानिए लक्षण और उपचार


What is Uric Acid Stone: वर्तमान में हमें अब कई ऐसी बीमारियों के नाम भी सुनने को मिलते हैं जिन्हें कुछ वर्षों से पहले हमने कभी नहीं सुना था. यूरिक एसिड की समस्या भी एक ऐसी ही बीमारी है. आजकल यूरिक एसिड के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं. यूरिक एसिड हमारे मेटाबॉलिक कार्यों का हिस्सा है लेकिन जब इसकी मात्रा शरीर में बढ़ने लगती है तो यह कई तरह की समस्याएं उत्पन्न कर देती है. इसके बढ़ने से यूरिक एसिड स्टोन का भी खतरा कई गुना बढ़ जाता है.

क्लीवलैंडक्लिनिक की खबर के अनुसार हमारी किडनी यूरिक एसिड को फिल्टर करने का काम करती है लेकिन जब किडनी इसे पूरी तरह से नहीं निकाल पाती तो शरीर में इसकी मात्रा बढ़ने लगती. किडनी यूरिक एसिड को फिल्टर करके यूरीन के माध्यम से इसे हमारे शरीर से बाहर निकाल देती है लेकिन यह कार्य जब किडनी से यह कार्य ठीक से नहीं हो पाता तो ब्लड में यूरिक एसिड का स्तर तेजी से बढ़ने लगता है.

यूरिक एसिड स्टोन कैसे बनते हैं
यूरिक एसिड की बढ़ी हुई मात्रा की वजह से किडनी में यूरिक स्टोन बनेने की भी संभावना भी बढ़ जाती है. दरअसल यूरिक एसिड में महीन कण होते हैं . यूरिक एसिड बढ़ने पर इन कणों की भी मात्रा बढ़ने लगती है और इससे स्टोन बनने लगती है. इसके साथ ही यह कण पेशाब मार्ग को भी संकरा बना देते हैं जिससे यूरीन पास करने में दिक्कत होती है. अगर पथरी छोटी है तो बिना किसी दर्द के दवाओं से यह पेशाब से बाहर निकल जाती है लेकिन यदि स्टोन बड़ी है तो इससे आपको दर्द होने लगता है.

कैसे लगाएं पता
अगर आपको यूरीन पास करने में किसी तरह की दिक्कत आ रही है तो आप हेल्थ एक्सपर्ट से सलाह ले सकते हैं. यूरिक एसिड स्टोन का निर्माण यूरिक एसिड में मौजूद महीन कणों से होता है. ये कण इतने महीने होते हैं कि इन्हें एक्सरे के माध्यम से नहीं देखा जा सकता. इसलिए यूरिक एसिड स्टोन का पता सीटी स्कैन के माध्य से लगाया जाता है.

Long Covid New Symptoms: क्या आपकी आवाज बदल गई है? जानें क्या है लॉन्ग कोविड का नया लक्षण

यूरिक एसिड स्टोन बनने का कारण
यूरिक एसिड बढ़ने का एक सबसे बड़ा कारण है प्यूरीन युक्त पदार्थों का अधिक सेवन करना. इसलिए अगर आप मीट, एल्कोहल, मिठाई, आइस्क्रीम, शुगर वाली ड्रिंग और मछली का अधिक सेवन करते हैं तो यूरिक एसिड स्टोन का खतरा हो सकता है. वैसे इसके लिए को निर्धारित उम्र नहीं लेकिन 25 से 50 साल के बीच की उम्र के लोगों में इसका जोखिम अधिक देखा गया है. यदि आप बहुत अधिक पशु प्रोटीन खाते हैं, तो आपके मूत्र में यूरिक एसिड का निर्माण हो सकता है.

यूरिक एसिड स्टोन बनने के अन्य कारण
अधिक वजन उठाने से भी शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ सकता है.
अगर आप मधुमेह के मरीज हैं तो इससे भी शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने की संभावना अधिक है.
अगर आप कई तरह की दवाइयों का सेवन करते हैं तो यह आपके पेशाब में अम्लता के स्तर को बढ़ा सकती हैं.
कई बार अधिक तनाव की वजह से और किडनी संबंधी बीमारियों की वजह से भी यूरिक एसिड बढ़ने लगता है.

यूरिक एसिड स्टोन होने के लक्षण
यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने पर जोड़ो में दर्द, पैरो में सूजन आने लगती है.
पेशाब मार्ग में जलन का महसूस होना.
पेशाब का रुक रुक कर होना जिससे आपको दर्द महसूस होना.
यूरिक एसिड स्टोन होने से पेट और कमर में दर्द होना.
पीठ के निचले हिस्से में दर्द होना.
पेशाब में खून आना.
क्या है एसिड रिफ्लक्स? पाचन क्रिया के लिए है बहुत ही घातक, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

क्या है उपचार
यूरिक एसिड स्टोन लिवर के लिए काफी गंभीर है. इसके लक्षणों का एहसास होने के बाद आपको अपने हेल्थ एक्सपर्ट से सलाह लेनी चाहिए. स्टोन का पता लगाने के लिए सबसे पहले आपको ब्लड टेस्ट कराना पड़ सकता है. इसके साथ ही आपको सीटी स्कैन और अल्ट्रासाउंड की जरूर भी पड़ सकती है. अगर यूरिक एसिड स्टोन का साइज 7 एमएम से कम है तो यह लगभग तीन सप्ताह में पेशाब मार्ग से निकल सकती है. यूरिक एसिड स्टोन को बनने से रोकने के लिए आपको रोजाना 5-6 लीटर पानी पीने की जरूरत है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *