UP BJP Core Committee Meeting At CM Yogi Adityanath Residence To Choose Candidates For Mainpuri Rampur And Khatauli By Election ANN » Br Breaking News
December 6, 2022


UP BJP Core Committee Meeting: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव (UP BY-Election) के लिए निर्वाचन आयोग (ECI) की तरफ से तारीखों की घोषणा होने के बाद शनिवार (12 नवंबर) को लखनऊ (Lucknow) में बीजेपी कोर कमेटी (BJP Core Committee) की बैठक रखी गई. यूपी की मैनपुरी (Mainpuri) लोकसभा सीट, रामपुर (Rampur) और खतौली (Khatauli) विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव होना है. 

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास पर बुलाई गई बीजेपी कोर कमेटी की बैठक में मैनपुरी लोकसभा सीट के अलावा रामपुर और खतौली विधानसभा सीटों के लिए कई नामों पर चर्चा हुई. तीन-तीन नाम फाइनल हुए हैं. इन नामों को रविवार (13 नवंबर) को दिल्ली भेजा जाएगा. वहीं से नामों पर अंतिम मुहर लगेगी. बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति 13 या 14 नवंबर को तीनों सीटों के लिए उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर सकती है और 16 नवंबर को उम्मीदवार अपना नामांकन दाखिल कर सकते हैं. 

बैठक में ये नेता रहे मौजूद

बीजेपी कोर कमेटी के बैठक में सीएम योगी के अलावा, उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी, केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह समेत पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद रहे. उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य फिलहाल गुजरात में हैं, इसलिए वह बैठक शामिल नहीं हो सके. यूपी की इन तीनों सीटों पर पांच दिसंबर को उपचुनाव कराया जाएगा और नतीजे आठ दिसंबर को जारी किए जाएंगे. 

News Reels

क्यों कराए जा रहे उपचुनाव?

समाजवादी पार्टी नेता मुलायम सिंह के निधन के बाद मैनपुरी लोकसभा सीट खाली हुई है. सपा नेता आजम खान को हेट स्पीच के मामले में सजा मिलने के बाद रामपुर विधानसभा सीट रिक्त हो गई. आजम को 27 अक्टूबर को सजा सुनाई गई. जनप्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया गया था. वहीं, बीजेपी विधायक विक्रम सिंह सैनी को दंगों से जुड़े पुराने मामले में सजा होने के बाद खतौली विधानसभा सीट पर उपचुनाव कराए जा रहे हैं.

मैनपुरी में बहू बनाम बहू के कयास

मैनपुरी उपचुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को उम्मीदवार बनाया है. वहीं, बीजेपी की ओर से मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव को यहां उतारे जाने के कयास लग रहे हैं. अगर अपर्णा को उम्मीदवार बनाया गया तो मुलायम परिवार की दो बहुएं आमने-सामने होंगी.

बीजेपी नेता अपर्णा यादव के नाम को लेकर चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि हाल में सोशल मीडिया पर ऐसी तस्वीरें दिखीं, जिनमें वह यूपी बीजेपी अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी के साथ नजर आईं. अपर्णा की यह मुलाकात उपचुनाव की सरगर्मी के बीच हुई.

यह भी पढ़ें-

PM Modi Telangana Visit: तेलंगाना में पीएम मोदी बोले- केसीआर सरकार ने लोगों को दिया धोखा, हम करेंगे काम



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *