December 10, 2022


Emoji History- India TV Hindi News

ये है इमोजी का इतिहास

Highlights

  • इमोजी का जन्म जापान में हुआ था
  • अब तक कुल 3633 इमोजी बन चुके हैं
  • व्हाट्सप्प पर 800 इमोजी उपलब्ध हैं

Emoji History: सोशल मीडिया पर दोस्तों और रिश्तेदारों को भाव विभोर करने वाले इमोजी भेजने और प्राप्त करने से आप परिचित ही होंगे। ऑनलाइन दुनिया में इमोजी खूब सुर्खियां बटोर रही है। व्हाट्सप्प, फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर और टेलीग्राम पर इमोशन को प्रजेंट करने में एक इमोजी अनेकों शब्दों पर भारी पड़ रहे हैं। यदि आप अपनों से व्हाट्सप्प चैटिंग के दौरान खुश हैं तो इस खुशी का इजहार स्माइल वाली इमोजी से कर सकते हैं। बर्थडे हो या सालगिरह दिल की बातों को दिल तक पहुंचाने में इमोजी की कोई तुलना नहीं है। बिना किसी लाग लपेटे के बातचीत को प्रभावपूर्ण बना देती है इमोजी। हंसने, रोने, गुस्सा करने, जश्न मनाने, माफी मांगने, सम्मान करने, सहमत होने, मना करने और अलविदा कहने जैसे अनेकों क्रियाओं को प्रकट करने के लिए इमोजी बन गए हैं। इसने कम्युनिकेशन को आसान और प्रभावशाली बना दिया है।

यह भी पढ़ें: रात में मोबाइल फोन को सिर के पास रखकर सोना हो सकता है खतरनाक, लंबी है नुकसान की लिस्ट

इमोजी का इतिहास

बात करने के शॉर्टकट तरीके यानी इमोजी का इजाद साल 1999 में जापानी व्यक्ति शिगेताका ने किया था। उन्होंने इमोजी में इ का मतलब पिक्चर बताया जबकि मोजी का मतलब कैरेक्टर! यानी फिलिंग को किसी पिक्चर के माध्यम से औरों तक पहुंचाना इमोजी माना जाता है। इमोजी की लोकप्रियता को देखते हुए ऑक्सफ़ोर्ड डिक्शनरी ने साल 2013 में इमोजी शब्द को खुद में शामिल किया। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रतिदिन सात अरब से ज्यादा इमोजी बात करने के लिए उपयोग हो रहे हैं। जिन दस इमोजी का ज्यादा उपयोग हो रहा है उनमें खुशी, थम्स अप, रेड हार्ट, रोना, हाथ जोड़ना, हंसते हुए आंसू छोड़ना, दिल के साथ मुस्कुराना, आंखों पर दिल के साथ मुस्कुराना, फेस ब्लोइंग किस और मुस्कुराती आंख शामिल हैं। इनके इस्तेमाल डेली लाइफ का हिस्सा बन चुका है। 

Tourist Places: हिमाचल के इस गांव में आज भी नहीं आते मोबाइल के सिग्नल, ट्रैकिंग के हैं शौकीन तो जरूर करें एक्सप्लोर

अब तक कुल 3633 इमोजी बन चुके हैं जबकि व्हाट्सप्प पर 800 इमोजी उपलब्ध हैं। यानी 3633 प्रकार के भाव बिना शब्द के व्यक्त किए जा सकते हैं।

क्या आपने कभी गौर किया कि इमोजी का कलर अधिकांशतः पीला होता है। लगभग सभी इमोजी पीले कलर के होते हैं। दरअसल रिसर्च में सामने आया है कि पीला कलर के इमोजी खिलता हुआ प्रतीत होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि पीला कलर खुशी का प्रतीक होता है। वैसे इमोजी रोने, गुस्सा करने और अन्य नकारात्मक भाव के लिए भी बने हैं किंतु गौर कीजिएगा- सकारात्मक भाव के इमोजी ज्यादा हैं।

Happy Karwa Chauth 2022 Wishes Images, Quotes: करवा चौथ पर इन मैसेज और तस्वीरों से भेजें हार्दिक शुभकामनाएं

किसी भी कंटेंट या तस्वीर के बैकग्राउंड में यदि पीला कलर इस्तेमाल किया जाए तो उस कंटेंट को पीला कलर डार्क कर देता है। पीला कलर इंसान के स्किन टोन से मिलता है, पीले कलर के इमोजी से इंसान जुड़ाव महसूस करता है। इसलिए भी इमोजी को पीला कलर में ढाल दिया गया ताकि इसकी पहुंच करोड़ों लोगों तक हो।

Latest Lifestyle News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *