November 28, 2022


हाइलाइट्स

जम्मू रेलवे स्टेशन को उड़ाने की साजिश, पुलिस को नाले से मिले 18 डेटोनेटर
जिस पार्किंग से विस्फोटक बरामद, पर्यटक वहीं से किराए पर लेते हैं गाड़ियां
जम्मू रेलवे स्टेशन पहले भी दो बार देख चुका बड़े आतंकवादी हमले

जम्मू. दिवाली त्योहार के बीच पुलिस ने जम्मू रेलवे स्टेशन को दहलाने की साजिश गुरुवार को नाकाम की. पुलिस ने टैक्सी स्टैंड पार्किंग पर एक नाले के अंदर से दो बॉक्स बरामद किए. इसमें 18 डेटोनेटर थे. पुलिस ने डेटोनेटर को अपने कब्जे में ले लिया. जिस जगह डेटोनेटर मिले वहां अक्सर पर्यटक होते हैं. यह पर्यटक यहीं से कश्मीर या माता वैष्णो देवी जाने के लिए गाड़ियां लेते हैं. आतंकियों ने इसी भीड़ को निशाना बनाने की साजिश रची थी.

जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने डेटोनेटर के अलावा दूसरे बॉक्स में मिले सामान को जांच के लिए लैबोरेटरी भेज दिया है. गौरतलब है कि जम्मू का रेलवे स्टेशन आतंकियों के निशाने पर शुरू से रहा है. इस स्टेशन ने दो बड़े आतंकी हमले देखे हैं. पहला हमला सात साल 2001 में अगस्त महीने में हुआ था. इस हमले में एक आतंकी ने प्लेटफॉर्म पर खड़ी ट्रेन में घुस कर दस लोगों को मार दिया था. इस हमले में 24 लोग घायल हुए थे. हालांकि, सुरक्षाबलों ने उस आतंकी को मार गिराया था, लेकिन तब तक वह काफी तबाही मचा चुका था.

सफाई में मिली विस्फोटक सामग्री
इसके बाद दो जनवरी, 2004 को आतंकी जम्मू रेलवे स्टेशन पर एक बार फिर गोलियां बरसाते हुए घुस गए थे. उस हमले में सेना के एक लेफ्टिनेंट त्रिवेनी सिंह सहित चार जवान शहीद हुए थे. जबकि, 14 लोग घायल हुए थे. इस हमले को अंजाम देने वाले तीन आतंकियों को लेफ्टिनेंट त्रिवेनी सिंह ने शहीद होने से पहले मार गिराया था. एसएसपी रेलवे पुलिस, आरिफ रेशू ने न्यूज18 को बताया कि हमारे जवान सफाई कर रहे थे.

पर्यटकों को निशाना बनाने की साजिश
एसएसपी रेशु ने बताया कि इसी के दौरान दो बॉक्स मिले. इसमें विस्फोटक सामग्री थी. एक बॉक्स में 18 डेटोनेटर और एक बॉक्स में वैक्स मटेरियल था. जिस मटेरियल को जांच के लिए भेजा गया है, उससे किसी बड़ी साजिश को अंजाम दिया जा सकता था. जहां से विस्फोटक मिला है वह रेलवे स्टेशन का जो वो इलाका है जहां हर वक्त टूरिस्ट आते-जाते रहते हैं. यहां से पर्यटक वैष्णो देवी और अन्य स्टेशनों पर जाने के लिए टैक्सी लेते हैं.

Tags: Jammu kashmir



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *