November 28, 2022
Swelling in Pregnancy: प्रेग्नेंसी के दौरान क्यों फूल जाते हैं हाथ-पैर, जानें इसके पीछे के बड़े कारण


हाइलाइट्स

प्रेगनेंसी के दौरान हार्मोनल परिवर्तन भी सूजन का कारण बन सकते हैं.
हाथों और पैरों में सूजन को फिजियोलॉजिकल एडिमा भी कहते हैं.
प्री-एक्लेमप्सिया, डीप वेन थ्रॉम्बोसिस की स्थिति में सूजन की समस्या गंभीर हो सकती है.

Swollen Feet and Hands during Pregnancy : महिलाओं के जीवन में गर्भावस्था का समय बेहद खास और खूबसूरत होता हैं लेकिन इसके साथ उन्हें अनेक चुनौतियों का सामना भी करना पड़ता है इसलिए इस समय में महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के प्रति विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है. प्रेगनेंसी के दौरान का समय सभी महिलाओं के लिए अलग-अलग होता है. कुछ के लिए यह डिलीवरी तक सहज अनुभव होता है जबकि कुछ महिलाओं को कई असुविधाएं हो सकती हैं.

इस समय में हार्मोनल परिवर्तन के कारण गर्भवती महिलाओं को कई समस्याएं हो सकती है. ऐसी ही एक समस्या है हाथों और पैरों में सूजन. ऐसे में ज्यादातर लोगों को यह समझ नहीं आता कि क्या यह नॉर्मल है या कोई गंभीर समस्या है. आज हम आपके ऐसे ही कुछ सवालों का जवाब लेकर आए हैं, आइए जानते हैं
क्या प्रेगनेंसी के दौरान हाथों और पैरों में सूजन की परेशानी नॉर्मल है.

प्रेगनेंसी के दौरान हाथों और पैरों में सूजन की परेशानी :
– इंडियन एक्सप्रेस डॉट कॉम के मुताबिक गर्भावस्था के दौरान आपका गर्भाशय आकार में फैलता है जिससे आपकी शरीर के निचले आधे हिस्से की नसों पर दबाव पड़ता है. इसके कारण हार्ट में ब्लड सर्कुलेशन नहीं हो पाता, इससे नसों में फ्ल्यूड रिटेंशन होता है जो आसपास के टिशूज में भी प्रवेश कर सकता है. कुछ हार्मोनल परिवर्तन भी सूजन का कारण हो सकते हैं.

– प्रेगनेंसी में इस स्तिथि को फिजियोलॉजिकल एडिमा भी कहा जाता है, और यह थर्ड सेमिस्टर के दौरान ऐसा होना नॉर्मल होता है जैसे-जैसे दिन बढ़ते हैं उसके साथ सूजन ज्यादा हो सकती है.

– प्रेगनेंसी में आमतौर पर सूजन की समस्या नॉर्मल होती है और डिलीवरी के कुछ हफ्तों बाद दूर हो जाती है लेकिन कभी-कभी पैरों और हाथों में सूजन की परेशानी होने पर गंभीर समस्या हो सकती है.

इसे भी पढ़ेंः दिन में एक बार जरूर पिएं करेले का जूस, कई शारीरिक समस्याओं से मिलेगी मुक्ति

एक्सपर्ट्स के अनुसार, प्रेगनेंसी के दौरान पैरों और हाथों में सूजन कब नॉर्मल नहीं होती है –
– प्री-एक्लेमप्सिया स्थिति में सूजन में अचानक वृद्धि होना है जो आपके हाथों या पैरों तक ही नहीं बल्कि चेहरे और आंखों के आसपास भी महसूस की जा सकती है. इससे वजन बढ़ने और हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी हो सकती है.

– डीप वेन थ्रॉम्बोसिस प्रेगनेंसी के दौरान पैरों में ब्लड सर्कुलेशन सही से नहीं हो पाता जिससे पैर और हाथों में रक्त के थक्के बन सकते हैं. जिससे सूजन की समस्या हो सकती है. डीप वेन थ्रॉम्बोसिस ऐसी स्थिति है जो आपके अंगों में सूजन और दर्द का कारण बनती है.

इसे भी पढ़ें- डायबिटिक हैं तो तुरंत स्मोकिंग छोड़ दीजिए, वरना कई गुना बढ़ सकता है मौत का खतरा, जानिए रिसर्च

Tags: Health, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *