brbreakingnews.com
Estimated worth
• $ 182,69 •

Bilkis Bano | SC ने खारिज की बिलकिस बानो की पुनर्विचार याचिका, दोषियों की रिहाई को दी थी चुनौती


bilkis-bano

File Pic

नई दिल्ली. आज सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बिलकिस बानो (Bilkis Bano) की पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दी है। दरअसल बिलकिस बानो ने बीते 2002 में उसके साथ गैंगरेप और उसके परिवार के सदस्यों की हत्या के 11 दोषियों की रिहाई के फैसले को उच्चतम न्यायलय में चुनौती दी थी। वहीं इस साल बीते 15 अगस्त को गुजरात सरकार ने अपने 1992 के जेल नियमों के तहत 11 दोषियों को समय से पहले रिहा कर दिया था।

क्या है मामला 

बता दें कि इसके पहले SC में गुजरात सरकार (Gujarat Government) ने बिलकिस बानो मामले (Bilkis Bono Case) में 11 दोषियों को छूट देने के अपने फैसले का बचाव किया था। तब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर किया था, जिसमें कहा गया था कि उन्हें (दोषियों) जेल में 14 साल की सजा पूरी करने के बाद छूट दी गई थी और उनका व्यवहार अच्छा पाया गया था।

दरअसल  इस मामले में दोषी ठहराए गए 11 लोगों को बीते 15 अगस्त को गोधरा उप-जेल से रिहा कर दिया गया था। वहीं गुजरात सरकार ने अपनी छूट नीति के तहत उनकी रिहाई की अनुमति दी थी। इसके पीछे तर्क यह था कि, इन्होंने जेल में 14 साल से अधिक समय पूरा किया था। 

यह भी पढ़ें

तब इस हलफनामे में यह भी कहा गया था कि, सरकार ने 1992 की नीति के अनुसार सभी 11 कैदियों के मामलों पर विचार किया था और 10 अगस्त, 2022 को छूट दी गई थी। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने दोषियों की समयपूर्व रिहाई को भी अपनी दे दी मंजूरी दी थी। दरअसल इन 11 लोगों को  “आजादी का अमृत महोत्सव” के उत्सव के हिस्से के रूप में कैदियों को छूट के अनुदान के परिपत्र के तहत छूट प्रदान नहीं की गई थी। वहीँ अब इस मामले में बिलकिस बानो ने द्वारा दायर की गयी याचिका को आज सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है। 

 





Source link

Leave a Comment