November 28, 2022


हाइलाइट्स

राजीव गांधी हत्याकांड के सभी दोषी जेल से रिहा
सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया रिहाई का फैसला
दो भारतीय, तो चार दोषी श्रीलंका के हैं नागरिक

चेन्नई. सुप्रीम कोर्ट ने राजीव गांधी हत्याकांड के दोषियों को भले ही रिहा कर दिया हो, लेकिन अभी भी उन्हें बहुत कुछ करना है. उन्हें कई तरह के दस्तावेज जुटाने हैं और भागदौड़ करनी है. नलिनी श्रीहरन को सबसे पहले चेन्नई से निकलकर सबसे पहले वेल्लोर की विशेष महिला जेल जाना होगा. उसकी परोल इस हफ्ते के अंत तक खत्म हो रही है. उसके बाद ही वह अपनी रिहाई से जुड़ी बाकी कागजी कार्रवाई कर सकती है. रविचंद्रन की पेरोल गुरुवार को ही बढ़ाई गई है. वह आराम से एक महीने तक बाहर रह सकता है. इस बीच उसे कागजी कार्रवाई पूरी करनी होगी.

इन दोनों के अलावा रॉबर्ट पायस, संतन, श्रीहरन और जयकुमार विदेशी यानी श्रीलंका के नागरिक हैं. चूंकि, प्रशासन के लिए जलती हुई लकड़ी हैं. इसलिए इमीग्रेशन अधिकारियों ने जेल प्रशासन से बात करके पहले ही इनके दस्तावेज तैयार करवा लिए हैं. उनके आपातकालीन यात्रा दस्तावेज भी तैयार हैं. सूत्र बताते हैं कि प्रशासन इन्हें जल्द से जल्द श्रीलंका भेज देना चाहता है.

अब देखना दिलचस्प होगा कि यह चारों क्या इसके लिए राजी होंगे, या श्रीहरन कुछ और समय पाने के लिए कोर्ट जाएगा. अधिकारियों का कहना है कि वह किसी भी कार्रवाई करने से पहले सुप्रीम कोर्ट के फैसले की हार्डकॉपी (कागजी दस्तावेज) देखेंगे. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में लिखा है कि आपात स्थिति में जो भी निर्देश जाएंगे वह तत्काल प्रभावी होंगे.

Tags: National News



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *