brbreakingnews.com
Estimated worth
• $ 182,69 •

Punjab Kings Appointed Former Indian Left Arm Spinner Sunil Joshi As Spin Bowling Coach For IPL 2023


IPL 2023: आईपीएल 2023 (IPL 2023) के लिए सभी टीमें अपनी-अपनी तैयारियों में लगी हुई हैं. इसी बीच पंजाब किंग्स (Punjab Kings) ने 16वें सीज़न के लिए अपनी टीम में बड़ा बदलाव किया है. टीम ने पूर्व भारतीय लेफ्ट आर्म स्पिनर सुनील जोशी (Sunil Joshi) को टीम का स्पिन बॉलिंग कोच बना दिया है. इस बात की जानकारी खुद पंजाब किंग्स के द्वारा साझा की गई है. 

पंजाब किंग्स ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल के ज़रिए इस बात की जानकारी दी गई. उनकी ओर से एक ट्वीट कर लिखा गया, “हम यह ऐलान करते हुए उत्साहित हैं कि पूर्व भारतीय बाएं हाथ के स्पिनर सुनील जोशी को पंजाब किंग्स के स्पिन बॉलिंग कोच के रूप में नियुक्त किया गया है.” 

सीनियर चयन समिति का थे हिस्सा

सुनील जोशी भारतीय सीनियर पुरुष चयन समिति का हिस्सा थे. मार्च 2020 में चेतन शर्मा से पहले वो चयन समिति के अध्यक्ष थे. इसके बाद चेतन शर्मा ने उन्हें रिप्लेस किया था. हालांकि, इसके बाद भी वो चयन समिति का हिस्सा बने रहे. 2023 में गठित कई गई नई सिलेक्शन कमेटी से पहले वाली कमेटी में सुनील जोशी चयन समिति का हिस्सा थे. 
 
कोचिंग में है पुराना अनुभव

news reels

सुनील जोशी कोचिंग के फील्ड में काफी अनुभवी हैं. वो इससे पहले बांग्लादेश, ओमान और यूएसए की पुरुष टीम के साथ बतौर स्पिन बॉलिंग कोच रहे चुके हैं. इसके अलावा उन्होंने जम्मू और कशमीर, हैदराबाद और असम की रणजी टीमों को कोच किया है. 

16वें सीज़न के लिए ऐसा है पंजाब किंग्स का कोचिंग स्टाफ

हेड कोच – ट्रेवर बेलिस.
सहायक कोच – ब्रैड हैडिन.
बल्लेबाजी कोच – वसीम जाफर.
गेंदबाजी कोच – चार्ल लैंगवेल्ट.
स्पिन गेंदबाजी कोच – सुनील जोशी.

सुनील जोशी का ऐसा रहा करियर

सुनील जोशी ने भारतीय टीम के लिए 1996 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में डेब्यू किया था. उन्होंने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर में कुल 15 टेस्ट और 69 वनडे मैच खेले हैं. 15 टेस्ट मैचों की 26 पारियों में गेंदबाज़ी करते हुए उन्होंने 35.85 की औसत से कुल 41 विकेट चटकाए हैं. इसके अलावा 69 वनडे मैचों की 67 पारियों में उन्होंने 36.36 की औसत से 69 विकेट लिए हैं.  

 

 

ये भी पढ़ें…

U19 Women’s T20 WC: महिला अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ने रचा नया कीर्तिमान, पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा करने वाली पहली टीम बनी



Source link

Leave a Comment