November 28, 2022


Mumbai Police Arrested Two Thieves: मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने एक साल पहले दहिसर ईस्ट में स्थित एक अपार्टमेंट से 42.38 लाख रुपये की चोरी की वारदात को सुलझाने का दावा किया है. एक साल हुई चोरी की इस वारदात को हल करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी. पुलिस ने चोरों (Thieves) तक पहुंचने के लिए पिछले 11 महीने से 167 सीसीटीवी और 97 अलग-अलग कंपनी के सिम कार्ड खंगाले. इसके बाद कहीं जाकर पुलिस वारदात से जुड़े दो शातिर चोरों को पकड़ने में कामयाब हो पाई. पुलिस ने चोरी के गहने खरीदने वाले आरोपी को भी उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है.

पुलिस ने मिशन ‘अलीबाबा’ को दिया अंजाम 

वारदात में शामिल दोनों चोरों के जितने भी सिम कार्ड थे उसके ट्रूकॉलर पर ‘अलीबाबा’ नाम आता था. इसलिए पुलिस ने इस मिशन को अलीबाबा का नाम दिया. इस मिशन में आरोपी को पकड़ने के लिए जांच अधिकारी को कभी पोस्टमैन बनना पड़ा, तो कभी सब्जी वाला बनकर आसपास से जानकारी इकट्ठा की. आरोपी की पुष्टि हो जाने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. उसके पास से पुलिस ने चोरी के गहने में से 18 लाख 7 हजार रुपये कीमत के सोने के गहने बरामद किए हैं.

एक साल पहले हुई थी चोरी की वारदात

News Reels

दहिसर पूर्व चूनाभट्टी के सचिन नगर के एक फ्लैट से 31 दिसंबर 2021 को 933 ग्राम सोने के आभूषण और 40 हजार रुपये नकद चोरी हुए थे. इस मामले में दहिसर पुलिस ने मामला दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी. काफी समय बीत जाने के बाद भी, जब चोरों का कुछ पता नहीं चला तो फ़ाइल बंद हो गई थी. उसके बाद दहिसर पुलिस स्टेशन के सब-इंसपेक्टर मल्हार थोरात के हाथ जब चोरी की फ़ाइल पहुंची, तो उन्होंने चोरों को पकड़ने के लिए एक बार फिर से फ़ाइल को खोलकर उसकी जांच शुरू की. 

पुलिस ने खंगाले 167 CCTV और 97 सिमकार्ड

चोरी की गुत्थी को सुलझाने के लिए मल्हार और उनकी टीम ने मुंबई से दिल्ली तक करीब 167 सीसीटीवी खंगाले, जिसमें वारदात के समय मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने करीब 97 अलग-अलग कंपनियों के सिम कार्ड खंगालने के बाद चोरों से जुड़ी एक छोटी सी जानकारी हासिल की. इसी लोकेशन के आधार पर दहिसर पुलिस की टीम उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा पहुंची. चोरों को पकड़ने के लिए और उसकी जानकारी इकट्ठा करने के लिए पुलिस अधिकारी ने पहले पोस्टमैन बनकर जानकारी निकाली. उसके बाद ठेले पर सब्जी वाले का रूप बदलकर सारी जानकारी इकट्ठा की. 

अंत में यूपी पुलिस (UP Police) की मदद से दोनों चोरों सलमान जुल्फिकार अंसारी (30) और हैदरअली सैफी समेत उनके एक अन्य साथी आफताब हुसैनी सैफी (34) को गिरफ्तार किया. पुलिस चोरी के गहने खरीदने वाले खुशाल (36) को भी गिरफ्तार कर मुंबई ले गई. दहिसर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रवीण पाटील ने बताया कि दोनों आरोपी काफी शातिर है. मुंबई सहित पूरे भारत में इनके ऊपर कई मामले दर्ज हैं.

इसे भी पढ़ेंः- Mainpuri By Election 2022: डिंपल यादव के सामने मैनपुरी से BJP किसे बनाएगी उम्मीदवार? इन नामों की हो रही है चर्चा



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *