November 28, 2022
Karva Chauth 2022: करवाचौथ से एक दिन पहले महिलाएं जरूर खाएं ये फूड्स, व्रत के दौरान नहीं लगेगी प्यास


हाइलाइट्स

करवा चौथ से एक दिन पहले ऑयली और स्पाइसी फूड नहीं खाना चाहिए.
सरगी के दौरान केला खाने से भी व्रत के दौरान परेशानी हो सकती हैं.

How To Be Energetic On Karva Chauth 2022: करवा चौथ का त्योहार इस साल 13 अक्टूबर को मनाया जाएगा. करवा चौथ के दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए निर्जला व्रत रखकर पूजा-अर्चना करती हैं. रात में चांद निकलने के बाद अर्घ्य देकर वे अपना व्रत पूरा करती हैं. व्रत के दौरान खाना और पानी न पीने की वजह से कई महिलाओं की तबीयत खराब हो जाती है. ऐसे में सवाल उठता है कि करवा चौथ के दिन इस परेशानी से किस तरह बचा जाए? डाइटिशियन की मानें तो करवा चौथ से एक दिन पहले अगर सही डाइट ली जाए तो व्रत वाले दिन महिलाएं एनर्जी से भरपूर रहेंगी और उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होगी. चलिए इस बारे में जरूरी बातें जान लेते हैं.

क्या कहती हैं डाइटिशियन?
मेदांता हॉस्पिटल की पूर्व डाइटिशियन कामिनी सिन्हा के मुताबिक करवा चौथ का व्रत निर्जला रखा जाता है और पूरे दिन कुछ न खाने-पीने से शरीर का इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस बिगड़ जाता है और कुछ महिलाओं को एसिडिटी की समस्या भी हो जाती है. इसके अलावा कई महिलाएं वीकनेस और चक्कर जैसी परेशानियों का शिकार हो जाती हैं. इससे बचने के लिए उन्हें एक दिन पहले और सरगी के वक्त सावधानी बरतनी चाहिए. अगर एक दिन पहले सही डाइट ली जाए तो करवा चौथ वाले दिन किसी तरह की परेशानी नहीं होगी और स्वास्थ्य ठीक रहेगा.

व्रत से एक दिन पहले कैसी डाइट जरूरी?
कामिनी सिन्हा कहती हैं कि करवा चौथ से एक दिन पहले सभी महिलाओं के ऑयली और ज्यादा मसाले वाला खाना खाने से बचना चाहिए. ऑयली और मसालेदार खाने से एसिडिटी की समस्या हो सकती हैं. यह खाना प्यास भी बढ़ा देता है. ऐसा खाने से व्रत वाले दिन परेशानी हो सकती है. करवा चौथ से एक दिन पहले सभी महिलाओं को आसानी से पचने वाले फूड्स का सेवन करना चाहिए. दाल, रोटी, सब्जी, खिचड़ी, खीर, छाछ, दही और रूह अफ़ज़ा मिल्क का सेवन किया जा सकता है. इसके अलावा पानी की कमी पूरी करने वाले फलों का सेवन भी किया जा सकता है. केला खाने से सभी महिलाओं को बचना चाहिए.

सरगी के दौरान भी हेल्दी फूड्स लें
डाइटिशियन कामिनी सिन्हा के अनुसार करवा चौथ व्रत की शुरुआत सरगी की रस्म के साथ होती है. सरगी सुबह 4:30 से 5:30 बजे के आसपास होती है. इस दौरान महिलाएं फ्रूट्स कस्टर्ड, दही, छाछ ले सकती हैं. इसके अलावा सरगी के वक्त कोकोनट वॉटर पीने से महिलाएं पूरे दिन हाइड्रेटेड रहेंगी और बॉडी के इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस रहेंगे. इससे एसिडिटी, कमजोरी, एनर्जी की कमी या अन्य स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से बचा जा सकता है.

यह भी पढ़ेंः कब है करवा चौथ व्रत, 13 अक्टूबर या 14 को? यहां दूर करें कन्फ्यूजन

यह भी पढ़ेंः करवा चौथ पर सरगी का है विशेष महत्व, पूजा की थाली में रखी जाती हैं ये चीजें

Tags: Health, Karwachauth, Lifestyle, Trending news, Women Health



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *