November 28, 2022


करनाल. हरियाणा के करनाल के निसिंग ब्लॉक के फतेहगढ़ गांव में तलवारें चल गई. इस हमले में कई लोग घायल हो गए, जिसके बाद वोटिंग को रोक दिया गया है. गांव में तनाव का माहौल है और भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया है. सरपंच का चुनाव सबसे ज्यादा संवेदनशील माना जाता है और इसका ताजा उदाहरण आज गांव फतेहगढ़ में देखने को मिला, जहां पर वोट डालने के लिए गए एक बुजुर्ग पर कुछ लोगों ने तेजधार हथियारों से हमला बोल दिया.

बताया जा रहा है कि दो पक्षों में वोट डालने को लेकर विवाद हो गया था. घटना की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई और स्थिति पर नियंत्रण पाया इसके बाद घायलों को करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया है. जहां पर घायलों का इलाज किया जा रहा है.

पुलिस अधिकारियों के मानें तो आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी निसिंग ब्लाक के फतेहगढ़ गांव में आज सरपंच व पंच पदों के लिए चुनाव चल रहे हैं, जिसमें सभी मतदाता अपने-अपने पसंदीदा उम्मीदवारों का चयन कर रहे हैं. आज सुबह दो पक्षों में वोट डालने को लेकर विवाद हो गया जहां पर जमकर तेजधार हथियार चले. इस घटना में एक महिला वह दो बुजुर्ग गंभीर रूप से घायल हो गए. घटना के बाद पोलिंग बूथ पर अफरा-तफरी मच गई और पुलिस की टीमें हरकत में आ गई. पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर काबू पाया.

एक पक्ष का कहना है कि वोटिंग को लेकर पहले से ही एक गुट नाराज चल रहा था. उसके बाद जब बुजुर्ग वोटिंग के लिए जाता है तो उसी दौरान विवाद हो जाता है और वहां पर तेजधार हथियार चल जाते हैं, जिससे पोलिंग बूथ पर भी अफरा-तफरी मच जाती है. उन्होंने कहा कि वैसे तो प्रशासन शांति व निर्भय तरीके से मतदान करवाना चाहता है, लेकिन जो लोग मतदान के लिए जा रहे हैं. उन्हीं पर तेजधार हथियारों से वार किया जा रहा है, जिससे एक डर का माहौल बना हुआ है. उन्होंने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

साथ ही यह भी अपील की है कि प्रशासन उन लोगों के बस्ते 400 मीटर की दूरी पर लगाए, जिन्होंने पोलिंग बूथ के नजदीक अपने स्टाल लगाए हुए हैं. करनाल के SP और DC ने भी मौके का दौरा किया है. भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया, गांव छावनी में तब्दील हो गया. कुछ देर के लिए वोटिंग रोक दी गई है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *