December 10, 2022


Himachal Pradesh Assembly Election 2022: हिमाचल प्रदेश की सभी 68 विधानसभा सीटों के लिए शनिवार (12 नवंबर) को सुबह आठ बजे शुरू हुए मतदान के महज दो घंटे के भीतर मतदान केन्द्रों पर लोगों की लंबी कतारें नजर आने लगी हैं. राज्य में काबिज बीजेपी के लिए मौजूदा चुनाव बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि वह पुरानी परंपरा को तोड़ते हुए राज्य में पहली बार लगातार दूसरी दफा सरकार बनाने की कोशिश में जुटी है. वहीं कांग्रेस चाहती है कि राज्य की जनता पुरानी परंपरा कायम रखते हुए उसे जनादेश दे.

पर्वतीय राज्य में सुबह आठ बजे मतदान शुरू होने के बाद शुरुआती समय में मतदान की गति धीमी रही, लेकिन धूप निकलने के साथ मतदाताओं की संख्या भी बढ़ने लगी है. आज (12 नवंबर) को मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ है और शाम पांच बजे तक चलेगा. आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के मतदाताओं से पूरे उत्साह के साथ ‘लोकतंत्र के पर्व’ में हिस्सा लेने और विधानसभा चुनाव में रिकॉर्ड मतदान करने का आग्रह किया.

नरेंद्र मोदी ने किया ट्वीट 

पहली बार वोट डाल रहे युवा मतदाताओं को शुभकामनाएं देते हुए नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, “हिमाचल प्रदेश की सभी विधानसभा सीटों के लिए आज मतदान का दिन है. देवभूमि के समस्त मतदाताओं से मेरा निवेदन है कि वे लोकतंत्र के इस उत्सव में पूरे उत्साह के साथ भाग लें और वोटिंग का नया रिकॉर्ड बनाएं. इस अवसर पर पहली बार वोट देने वाले राज्य के सभी युवाओं को मेरी विशेष शुभकामनाएं.”

News Reels

हर वोट समृद्ध हिमाचल का निर्माण करेगा

हिमाचल के प्रदेश के लोगों से बड़ी संख्या में वोट डालने की अपील करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा, “हर वोट समृद्ध हिमाचल का निर्माण करेगा. जयराम ठाकुर ने ट्वीट किया, “प्रिय प्रदेशवासियों आज मतदान का दिन है. हिमाचल के सभी मतदाताओं से मेरा विनम्र आग्रह है कि पूरे उत्साह के साथ लोकतंत्र के इस महापर्व में भाग लें. भारी संख्या में मतदान करें, आपका एक मत समृद्ध हिमाचल का निर्माण करेगा”.

हिमाचल प्रदेश में मतदाताओं का लेखा-जोखा

हिमाचल प्रदेश में कुल 55 लाख से ज्यादा मतदाता हैं. मतदान करने के लिए मतदाताओं में से 28,54,945 पुरुष और 27,37,845 महिलाएं हैं और 68 सीटों पर 412 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. 2022 के विधानसभा चुनाव में 24 महिला प्रत्याशी भी शामिल हैं. आज हो रहे चुनाव में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के पुत्र विक्रमादित्य सिंह और बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती प्रमुख उम्मीदवारों में शामिल हैं.

EVM की जांच के लिए मॉक मतदान किया

सभी मतदान केंद्रों पर मतदान से पहले चुनाव अधिकारियों ने EVM की जांच के लिए मॉक मतदान भी किया. हिमाचल प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी महेश गर्ग ने कहा, “मतदान के लिए पूरी तैयारी है. उन्होंने पीटीआई/भाषा से कहा, मतदान कर्मियों की सभी 7,884 टीम अपने-अपने मतदान केंद्रों पर पहुंच गई है और मतदान कराने के लिए तैयार हैं. उनके साथ सुरक्षा बलों के कर्मी भी हैं. चुनाव के लिए करीब 50,000 मतदान कर्मियों और करीब 25,000 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है.” राज्य के सुदूर इलाकों में स्थित तीन सहायक मतदान केन्द्र भी शामिल हैं. कुल मतदान केन्द्रों में से 789 सेंसिटिव और 397 एक्सट्रीम सेंसिटिव कैटेगरी में हैं.

पिछले चुनाव में रिकॉर्ड 75.57 प्रतिशत मतदान हुआ था

चुनाव आयोग ने सबसे अधिक ऊंचाई पर मतदान केंद्र लाहौल-स्पीति जिले के ताशिगांग, काजा में बनाया है जो 15,256 फुट की ऊंचाई पर है. यहां पर 52 मतदाता हैं. राज्य में 2017 में हुए पिछले चुनाव में रिकॉर्ड 75.57 प्रतिशत मतदान हुआ था. राज्य में बीजेपी और कांग्रेस के अलावा अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी भी चुनाव मैदान में है. आप ने 68 में से 67 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं जबकि मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) 53 सीटों पर मैदान में है.

ये भी पढ़ें:Exclusive: हिमाचल से AAP और कांग्रेस पर बरसे जेपी नड्डा, कहा- एक गुमराह कर रहा है और दूसरा विज्ञापन कर रहा है





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *