brbreakingnews.com
Estimated worth
• $ 182,69 •

Girls Sick After Eating Pakodas And Eggs: 7 Girl Students Of Kasturba Vidyalaya In Siwan Fell Unconscious – पकौड़े-अंडे खाकर बच्चियां बीमार: सीवान के दरौंदा में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की 7 छात्राएं हुईं बेसुध


सार

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय दरौंदा की सात छात्राओं को सीवान सदर अस्पताल लाया गया है। मंगलवार सुबह ज्यादातर बेसुध थीं। अब एक-दो छात्राएं बातचीत कर पा रही हैं। इन्होंने बताया कि शाम में पकौड़ी और रात में अंडा खाया था।

फूड प्वाइजनिंग की गंभीर शिकायत बताई जा रही।

फूड प्वाइजनिंग की गंभीर शिकायत बताई जा रही।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

सारण-सीवान इन दिनों जहरीली शराब के कारण लगातार चर्चा में है। अब सीवान में खाने की खराबी से बच्चियों के बीमार होने की खबर सामने आ रही है। कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय दरौंदा की सात छात्राओं को सीवान सदर अस्पताल लाया गया है। मंगलवार सुबह जब छात्राओं को यहां लाया जा रहा था, तब ज्यादातर बेसुध थीं। अब एक-दो छात्राएं बातचीत कर पा रही हैं। इन्होंने बताया कि सोमवार शाम पकौड़ी और रात में अंडा-रोटी खाने के बाद चक्कर, बेचैनी, दांत लगने जैसी परेशानी दिखने लगी। रात से ही एक-एक कर तबीयत खराब होती गई। 
सुबह जिन छात्राओं को स्कूल की शिक्षिकाएं दरौंदा से सीवान सदर अस्पताल लेकर पहुंचीं, उनके नाम रानी कुमारी, अंशु कुमारी, निधि कुमारी, खुशबू कुमारी, रीना कुमार, लक्ष्मी कुमारी और अंशिका कुमारी हैं। दो छात्राओं ने बमुश्किल बात की और बताया कि रात से सुबह के बीच में सभी की हालत खराब हुई। जब बेसुध होने लगीं तो स्कूल की शिक्षिकाओं ने सीवान लाकर इलाज कराना शुरू किया। अस्पताल के अनुसार यह फूड प्वाइजनिंग का केस है, हालांकि किस चीज के कारण तबीयत इस तरह बिगड़ी यह कोई नहीं बता पा रहा है। जो दो छात्राएं बात कर रहीं, उन्होंने खाने में किसी तरह की दुर्गंध या बेस्वाद की जानकारी नहीं दी है।

विस्तार

सारण-सीवान इन दिनों जहरीली शराब के कारण लगातार चर्चा में है। अब सीवान में खाने की खराबी से बच्चियों के बीमार होने की खबर सामने आ रही है। कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय दरौंदा की सात छात्राओं को सीवान सदर अस्पताल लाया गया है। मंगलवार सुबह जब छात्राओं को यहां लाया जा रहा था, तब ज्यादातर बेसुध थीं। अब एक-दो छात्राएं बातचीत कर पा रही हैं। इन्होंने बताया कि सोमवार शाम पकौड़ी और रात में अंडा-रोटी खाने के बाद चक्कर, बेचैनी, दांत लगने जैसी परेशानी दिखने लगी। रात से ही एक-एक कर तबीयत खराब होती गई। 

सुबह जिन छात्राओं को स्कूल की शिक्षिकाएं दरौंदा से सीवान सदर अस्पताल लेकर पहुंचीं, उनके नाम रानी कुमारी, अंशु कुमारी, निधि कुमारी, खुशबू कुमारी, रीना कुमार, लक्ष्मी कुमारी और अंशिका कुमारी हैं। दो छात्राओं ने बमुश्किल बात की और बताया कि रात से सुबह के बीच में सभी की हालत खराब हुई। जब बेसुध होने लगीं तो स्कूल की शिक्षिकाओं ने सीवान लाकर इलाज कराना शुरू किया। अस्पताल के अनुसार यह फूड प्वाइजनिंग का केस है, हालांकि किस चीज के कारण तबीयत इस तरह बिगड़ी यह कोई नहीं बता पा रहा है। जो दो छात्राएं बात कर रहीं, उन्होंने खाने में किसी तरह की दुर्गंध या बेस्वाद की जानकारी नहीं दी है।





Source link

Leave a Comment