November 28, 2022
Galangal Benefits: अदरक जैसा दिखने वाला गलंगल है बड़े काम का, डायबिटीज और कैंसर में भी है फायदेमंद


हाइलाइट्स

गालैंजल की जड़ में एचएमपी होता है
पुरुष प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है
गालैंजल की जड़ में एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं

Galangal Benefits– गलंगल दिखने में अदरक के जैसे लगता है. इसके काफ़ी सारे फायदे हैं. गलंगल की जड़ का उपयोग दक्षिण एशिया में मसालों को बनाने के लिए किया जाता है. इसका उपयोग पुराने समय से आयुर्वेद चिकित्सा में किया जाता  आ रहा है. इसमें अदरक और हल्दी के जैसे गुण पाए जाते हैं. गालैंजल को ताजा पका कर खाया जाता है. यह कई देशों जैसे चीन, इंडोनेशिया, मलेशिया में प्रमुख भोजन के लिए उपयोग किया जाता है.

यह कैंसर और डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारियों में भी लाभदायक माना जाता है. इसका उत्पादन वेस्ट बंगाल आसाम और ईस्ट हिमालय के आसपास क्षेत्रों में होता है. आयुर्वेद के अनुसार पेट दर्द,सूजन, डायबिटीज, अल्सर जैसी बीमारियों में इसका प्रयोग फायदेमंद हो सकता है.आइए जानते हैं इसके लाभों के बारे में.


गलंगल के फायदे
स्टाइलक्रेज के मुताबिक यह एक जिंजी बेराशियाई से संबंधित जड़ी बूटी है . गलंगल का मसाला बना कर कई बीमारियों का इलाज किया जा सकता है. जैसे सूजन को कम करने, पुरुष प्रजनन क्षमता को बढ़ाने और संक्रमण से फैलने वाली बीमारियो के लिए उपयोगी है.

-गलंगल अलग अलग प्रकार के कैंसर को रोकने में मदद करता है.

-गलंगल की जड़ में एंटीऑक्सिडेंट गुण पाए जाते हैं. जो रोगों से लड़ने में मदद करते हैं और हमारी सेल्स को नुकसान पहुंचाने से बचाते हैं.

-यह कैंसर सेल्स को मार सकता है या उन्हें फैलने से रोक सकता है.

-एक शोध में सामने आया है गालैंजल  स्तन, पित्त नली, त्वचा और यकृत कैंसर सेल्स से लड़ सकता है.

-गलंगल के मसाले का उपयोग करके हम अपने शुगर के स्तर को नियंत्रित कर सकते हैं.

-इसका स्वाद मसालेदार और थोड़ा अधिक चटपटा होता है.

-गलंगल की जड़ में एचएमपी होता है. जो रोग पैदा करने वाली सूजन को कम कर सकता है. इस प्रकार यह डायबिटीज को भी नियंत्रित करने में सहायक माना जाता है.

यह भी पढ़ेंः मच्छरों से बचने के लिए इस्तेमाल कर रहे क्रीम या ऑयल तो जान लीजिए खतरे

इसे भी पढ़ें: रात में गहरी नींद सोने के लिए करें ये 5 उपाय, सुबह मूड रहेगा फ्रेश

गलंगल के साइड इफेक्ट
सदियों से वैसे तो इसका प्रयोग दवाइयों में होता आया है. लेकिन आयरन, विटामिन ए और विटामिन सी से भरपूर इस के अधिक प्रयोग से बार-बार यूरिनेशन, भूख कम लगना, एनर्जी लेवल का डाउन होना जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

Tags: Health, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *