Fake 2000 Currency Notes Of Rs 8 Crore Seized After Gang Busted By Thane Crime Branch Of Maharashtra Police ANN » Br Breaking News
November 29, 2022


Maharashtra Police Seizes Fake Currency Notes: महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra Police) की ठाणे अपराध शाखा (Thane Police Crime Branch) ने नकली नोट (Fake Currency) छापने वाली एक गैंग का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने आरोपियों के पास से भारी मात्रा में 2000 के जाली नोट (Fake Currency Notes) बरामद किए हैं. पुलिस के मुताबिक, 8 करोड़ रुपये के 2000 के जाली नोट जब्त किए गए हैं.

इन नोटों को बाजार में उतारने की तैयारी चल रही थी लेकिन उससे पहले पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लग गई. पुलिस ने मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान 52 वर्षीय राम शर्मा (Ram Sharma) और 55 वर्षीय राजेंद्र राउत (Rajendra Raut) के रूप में की है. पुलिस ने बताया कि आरोपी पालघर (Palghar) के रहने वाले हैं और नकली नोटों को बाजार तक पहुंचाने का काम कर रहे थे.

नकली नोट छापने वाले इस गैंग के पास से पुलिस ने 2000 के नोटों वाले 400 बंडल बरामद किए है. फिलहाल पुलिस की तफ्तीश जारी है. पुलिस पता लगाने की कोशिश कर रही है कि नकली नोट छापने वालों का नेटवर्क कहां तक फैला हुआ है. पुलिस के मुताबिक, बाजार में 2000 हजार रुपये के नोटों की कमी को देखते हुए जालसाज इसका फायदा उठाना चाह रहे थे.

पिछले महीने मुंबई-गुजरात से मिले थे जाली नोट

News Reels

अक्टूबर के पहले हफ्ते में पुलिस ने मुंबई और गुजरात के कई ठिकानों में विशेष अभियान चलाकर भारी मात्रा में नकली लोग जब्त किए थे. पुलिस ने छापेमारी में 317 करोड़ रुपये मूल्य के जाली नोट बरामद किए थे, जिसमें से 227 करोड़ रुपये मूल्य के जाली नोट अकेले मुंबई से जब्त किए गए थे. मामले में छह लोगों की गिरफ्तारी भी हुई थी, जिनमें एक कूरियर कंपनी चलाने वाला आरोपी विकास जैन भी शामिल था. पुलिस ने कूरियर सेवा के जरिये जाली नोटों को सप्लाई किए जाने का शक जताया था. 

पुलिस ने जानकारी दी थी कि मुंबई, सूरत, आणंद और जामनगर में कई ठिकानों पर छापेमारी के चलते 500 और 2000 के नकली नोट जब्त किए गए. पुलिस ने नोटबंदी के दौरान चलन से बाहर हुए 500 और 1000 रुपये के नोट भी बरामद किए थे. 

ऐसे मिला था पुलिस को सुराग

पुलिस ने बताया था कि एक आरोपी हितेश कोटाडिया को गिरफ्तार करने के बाद उससे पूछताछ में मिले सुराग मिला था, जिसके बाद छापे मारे गए और जाली नोट जब्त हुए. कोटाडिया को एक एंबुलेंस से 25 करोड़ रुपये से ज्यादा मूल्य के जाली नोट ले जाते हुए दबोचा गया था.

इसी साल जनवरी के आखिरी हफ्ते में मुंबई पुलिस ने जाली नोट छापने और उन्हें बाजार में उतारने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ किया था. पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार करने के साथ ही सात करोड़ रुपये मूल्य के जाली नोट बरामद किए थे.

यह भी पढ़ें- ‘जजों के सामने सोशल मीडिया एक बड़ी चुनौती’… CJI चंद्रचूड़ ने जताई चिंता, कोर्ट से लाइव स्ट्रीमिंग का भी किया जिक्र



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *