December 10, 2022


Red light On Gaadi Off Campaign: दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने आरोप लगाया कि सरकार के ‘रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ’ अभियान की फाइल उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने रोकी हुई है. राजधानी दिल्ली में प्रदूषण को काबू करने को लेकर शुक्रवार (28 अक्टूबर) से ये कैंपेन शुरू होना है. पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया कि दिल्ली (Delhi) में प्रदूषण (Pollution) को कम करने के लिए 15 पॉइंट एक्शन प्लान शुरू किया हुआ है. एंटी डस्ट कैंपेन किया जा रहा है. साथ ही निरीक्षण चल रहा है.

उन्होंने कहा कि बायो डिकम्पोजर का छिड़काव चल रहा है. साथ ही दावा किया कि प्रदूषण का सबसे अहम कारण डस्ट, पराली और गाड़ियों से निकलने वाला धुंआ है. गोपाल राय ने जानकारी दी कि साल 2020 में ‘रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ’ मुहिम शुरू हुई थी. लगभग 10 से 12 चौराहों से गुजरकर हम घर पहुंचते हैं. रेड लाइट पर हम गाड़ी बंद नहीं करते. हर व्यक्ति 25-30 मिनट फ्यूल बर्निंग करता है. अगर इंजन बंद रखे तो प्रदूषण कम हो सकता है. ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान (GRAP) के तहत भी नियम है. 

‘एलजी को रोज लिखते हैं चिट्ठी’

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने बताया कि 21 अक्टूबर के दिन ‘रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ’ की फाइल एलजी विनय कुमार सक्सेना (VK Saxena) को भेजी, लेकिन अभी तक उन्होंने मंजूरी नहीं दी. उनके पास बहुत सारे कामों का समय है. हम रोजाना चिट्ठी लिखते हैं. अभी तक फाइल ना आने के कारण ये मुहिम स्थगित करनी पड़ रही है. साथ ही दावा किया कि दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (DPCC) के खाली पड़े पदों को भी उपराज्यपाल सक्सेना नहीं भर रहे हैं. 

ताज़ा वीडियो

ये भी पढ़ें-

Delhi News: छठ से पहले दिल्ली के यमुना में तैर रहा जहरीला झाग, सरकार की सफाई व्यवस्था की खुली पोल



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *