November 28, 2022


नई दिल्‍ली. दुष्‍कर्म के अपराध में जेल में बंद डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को हाल ही में 40 दिनों की पैरोल पर रिहा किया गया है. वहीं बाबा राम रहीम ने जेल से बाहर निकलते ही आश्रम में पहुंचने के बाद ऑनलाइन सत्‍संग भी करना शुरू कर दिया. जिसे लेकर अब हरियाणा सरकार पर सवाल उठ रहे हैं. इसी को लेकर दिल्‍ली महिला आयोग की अध्‍यक्ष स्‍वाति मालीवाल ने हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को ट्वीट कर पांच सवाल पूछे हैं.

स्‍वाति मालीवाल ने ट्वीट कर हरियाणा सीएम से पूछा कि क्‍या राम रहीम को पैरोल कोर्ट ने दी ?अगर हां तो किस कोर्ट ने दी? दूसरा सवाल पूछा कि आपके मंत्री ने कहा क‍ि पैरोल आपकी सरकार के जेल विभाग का मुद्दा है, तो क्‍या गृह मंत्री ने झूठ बोला ? क्‍या पैरोल जिला अधिकारी ने दी? तीसरा सवाल पूछा क‍ि पैरोल सिर्फ बेहद जरूरी कारणों पर दी जाती है, राम रहीम को क्‍या जरूरी काम है? वहीं चौथा सवाल पूछा क‍ि जो सरकारी लोग उसके सत्‍संग में गए, उनके खिलाफ क्‍या कार्यवाही होगी? पांचवे सवाल में पूछा क‍ि क्‍या सरकार ने बाबा को गुड कंडक्‍ट प्रिजनर माना है?

बता दें क‍ि जेल से बाहर आते ही राम रहीम ने स्‍पष्‍ट कर दिया क‍ि डेरे का गुरू वही है और वही रहेगा. साथ ही उसने एक बार फिर अपनी राजदार और मुंहबोली बेटी हनीप्रीत का नाम बदल दिया है. हनीप्रीत को उसने रूहानी दीदी का नाम दिया है. साथ ही बाबा पर अपने बरनावा के आश्रम में पहुंच गया है और वहां उसके अनुयायी भी उससे मिलने पहुंच रहे हैं.

Tags: CM Manohar Lal, Gurmeet Ram Rahim, Swati Maliwal



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *