November 28, 2022


BJP Attacks Congress on PoK: भारतीय जनता पार्टी ने  शौर्य दिवस के मौके पर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को कसूरवार ठहराते हुए कहा कि उन्होंने देशहित का ध्यान नहीं रखा. बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि 27 अक्टूबर का दिन ऐतिहासिक दिन है क्योंकि इसी दिन जम्मू-कश्मीर का विलय भारत के साथ हुआ था. आज यह भी याद करने का दिन है कि किस तरह से भारत के पहले पीएम नेहरू ने ऐसी गलतियां की जिसकी एक बड़ी कीमत हमारे देश और देशवासियों और कश्मीर के नागरिकों को चुकानी पड़ी.

उन्होंने कहा कि कश्मीर के राजा हरि सिंह विलय चाहते थे. उनकी दोस्ती शेख अब्दुल्ला के साथ थी. जिसकी वजह से आजाद भारत ने आक्रांता देखी. बीजेपी प्रवक्ता ने आगे कहा कि हमने देखा कि जो भारत का अभिन्न अंग है, उसके ऊपर पाकिस्तान का अवैध कब्जा है. ऐसे में अगर ये फैसला नेहरूजी ले लेते तो ये पीओके के मसला नहीं होता.  

गौरव भाटिया ने कहा कि हमारे कश्मीरी पंडित भाई-बहन को जिस तरह प्रताड़ित किया गया, तो यह भी नहीं होता. आज यह बात बार-बार पूछी जाएगी कि ऐसा क्यों हुआ कि नेहरू जी ने अपनी दोस्ती निभाते रहे. अपनी नीजि महत्वकांक्षा और दोस्ती को ध्यान में रखा. नेहरू की ऐतिहासिक भूल का सुधार मोदी जी ने 370 को हटाकर किया. जो गलतियां कंग्रेस ने की, उसकी कीमत देश ने चुकाई है और सुधार बीजेपी कर रही है.

ताज़ा वीडियो

बीजेपी प्रवक्ता ने आगे कहा कि हमने ये देखा कि किस तरह भारत ने संयुक्त राष्ट्र में इस पर अपना पक्ष रहा है, लेकिन ये भी एक बड़ी भूल थी कि जवाहर लाल नेहरू ने, जो हमारा अंदरूनी मामला था उसे यूएन में रखा और पाकिस्तान का हौवा बनाया. भाटिया ने कहा कि ये आज भारत की जनता सवाल पूछ रही है कि ये समय पर चलते हुए सरदार पटेल के नक्शे पर चलते हुए तो शायद जो जेहादी आतंकी का रूप हम देख रहे, उसके सामना भी भारत को नहीं करना पड़ा.

उन्होंने कहा कि अधीर रंजन चौधरी ने लोकसभा में पूछा था कि आप 370 को लेकर संसोधन कैसे ला सकते हैं क्योकि यह मामला यूएन में पेंडिग है? यह साफ दिखाता है कि कॉंग्रेस घटिया राजनीति के लिए संविधान द्वारा लाए गए संसोधन का भी विरोध करती है. आज के दिन कॉंग्रेस पार्टी को पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए.

ये भी पढ़ें: बढ़ रही पाकिस्तान-अमेरिका की नजदीकियां! अमेरिकी राजदूत ने Pok को बताया ‘आजाद जम्मू कश्‍मीर’, भारत ने जताई नाराजगी



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *