brbreakingnews.com
Estimated worth
• $ 182,69 •

Tejasvi Surya Controversy | BJP सांसद तेजस्वी सूर्या ने खोला ‘इंडिगो’ फ्लाइट का इमरजेंसी गेट, बाद में मांगी ‘माफ़ी’, जानें पूरा मामला


Tejasvi Surya

Photo : Twitter@Tejasvi_Surya

नई दिल्ली. एक खबर के अनुसार, बेंगलुरू साउथ से लोकसभा सांसद तेजस्वी सूर्या (Tejasvi Surya) ने इंडिगो फ्लाइट (Indigo) का इमरजेंसी गेट (Emergency gATE) खोल दिया, जिससे यह फ्लाइट 2 घंटे लेट हो गई है। मामले में DGCA ने जांच के आदेश दिए हैं। जानकारी के अनुसार, यह घटना बीते 10 दिसंबर को चेन्नई से त्रिवेंद्रम जाने वाली फ्लाइट में हुई थी। उस समय DGCA ने बताया था कि किसी पैसेंजर ने एग्जिट खोल दिया, लेकिन उन्होंने तेजस्वी सूर्या का नाम तब नहीं बताया था।

इंडिगो ने छुपाया मामला 

इतना ही नहीं एयरलाइन इंडिगो ने इस मुद्दे पर कोई भी बयान जारी करने से भी साफ़ इनकार कर दिया। चेन्नई हवाई अड्डे के अधिकारियों और नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) के अधिकारियों ने पुष्टि की कि उड़ान पर आपातकालीन निकास द्वार, एक यात्री द्वारा जरुर खोला गया था, लेकिन उन्होंने इस बात की पुष्टि करने से इनकार कर दिया कि तेजस्वी सूर्य हे वे यात्री थे या नहीं। 

क्या है मामला 

हालांकि अन्य मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो, अन्य प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, घटना के समय केबिन क्रू यात्रियों को सुरक्षा प्रोटोकॉल के बारे में जानकारी दे रहा था। तभी सांसद तेजस्वी सूर्या एक आपातकालीन निकास द्वार के पास बैठे थे और उन्हें अनिवार्य आपातकालीन प्रक्रियाओं के बारे में भी जानकारी दी गई थी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार वे इसे ध्यान से सुन रहे थे और उसके कुछ मिनट बाद उन्होंने दरवाजे के लीवर को खींच दिया जिसके परिणामस्वरूप आपातकालीन निकास द्वारा खुल गया। इसके तुरंत बाद, सभी यात्रियों को को विमान से उतार दिया गया और एक बस में बिठा दिया गया।

मांगी माफ़ी 

बाद में एयरलाइन के अधिकारी और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) मौके पर पहुंचे और यह सुनिश्चित करने में कम से कम दो घंटे लग गए कि विमान फिर से उड़ान भर सकेगा कि नहीं। वहीं इंडिगो के सूत्रों के मुताबिक, चूंकि यह सुरक्षा उल्लंघनथा, इसलिए सांसद से माफी मांगने को कहा गया था और उन्होंने इसके लिए लिखित माफीनामा भी दिया था। बाद में माफी मांगने के बाद सांसद  तेजस्वी सूर्या को उसी विमान में यात्रा करने की अनुमति दी गई थी।





Source link

Leave a Comment