November 28, 2022
20 से 30 की उम्र में कर लें सिर्फ ये 5 काम, कभी नहीं होगा कैंसर, जानें टिप्स


हाइलाइट्स

वजन बढ़ने के कारण 13 प्रकार के कैंसर होते हैं जिनमें ब्रेस्ट, पेट, पैनक्रियाज और गर्भाशय का कैंसर भी शामिल है.
स्मोकिंग के कारण 14 अन्य तरह के कैंसर होते हैं. इसलिए हर हाल में स्मोक छोड़ दें

Cancer preventable tips: कैंसर का नाम सुनते ही लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं. विज्ञान की इतनी तरक्की होने के बावजूद आज भी इसका गारंटेड इलाज नहीं है. विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO के मुताबिक विभिन्न तरह के कैंसर के कारण 2018 में 96 लाख लोगों की मौत हुई है. हर साल करीब इतने लोग कैंसर के कारण मर जाते हैं. कैंसर को लेकर हाल ही में आई एक रिसर्च और ज्यादा चौंकाने वाली है. रिसर्च के मुताबिक 1990 के बाद की पीढ़ी वाले लोगों में किसी भी पीढ़ी की तुलना में कैंसर का जोखिम बहुत ज्यादा है. यानी वर्तमान में जो 30 से 40 के युवा हैं उनमें कैंसर का खतरा बढ़ता जा रहा है. यह उम्र के पड़ाव का ऐसा समय होता है जिसमें हम कैंसर के बारे में सोचते भी नहीं है. दरअसल, कैंसर के लिए ज्यादातर मामलों में खराब लाइफस्टाइल और खान-पान को जिम्मेदार माना जाता है, इसलिए अगर हम इसी उम्र में कुछ आदतों को सुधार लें तो कैंसर का जोखिम बहुत कम हो सकता है.

इसे भी पढ़ें-लव हार्मोन में है कारामाती शक्ति, हार्ट की इंज्युरी को भी कर सकता है ठीक, नई रिसर्च में खुलासा

कैंसर से बचने के टिप्स

  • स्मोक को बाय कहें-इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक लंग्स कैंसर के लिए स्मोक सबसे बड़ा जिम्मेदार कारक है. स्मोकिंग के कारण 14 अन्य तरह के कैंसर होते हैं. 25 से पहले स्मोकिंग करने की आदत बाद में कैंसर का कारण बन सकती है. इसलिए हर हाल में स्मोक छोड़ दीजिए या नहीं कर रहे हैं तो कभी भी स्मोक करने के बारे में न सोचें.
  • सुरक्षित यौन संबंध-एचपीवी (ह्यूमन पेपिलोमावायरस) जिसके कारण जननांग में छाले की तरह निकल आते हैं, दुनिया में सबसे आम यौन संचारित संक्रमण है. यह कई प्रकार के कैंसर का कारण भी बन सकता है – जिसमें गर्भाशय ग्रीवा, लिंग, मुंह और गले का कैंसर भी शामिल है. एचपीवी के कारण युवाओं में ज्यादा कैंसर की बीमारी हो रही है. खासकर 30 से 34 साल की महिलाओं में. एचपीवी के कारण युवा पुरुषों में ओरल कैंसर होने लगा है. इसलिए एचपीवी वैक्सीन लगानी चाहिए और सुरक्षित यौन संबंध इससे बचने का सबसे बेहतर तरीका है.
  • वजन को मैंटेन रखें-वजन बढ़ने के कारण 13 प्रकार के कैंसर होते हैं जिनमें ब्रेस्ट, पेट, पैनक्रियाज और गर्भाशय का कैंसर भी शामिल है. अतिरिक्त चर्बी शरीर में सूजन को जन्म देती है जिससे ट्यूमर होने का जोखिम बढ़ जाता है. इसलिए हर हाल में वजन को बढ़ने न दें. प्रोसेस्ड फूड, सैचुरेटेड फैट से परहेज करें और हेल्दी खाना खाएं.
  • अल्कोहल को हाथ न लगाएं-अल्कोहल के कारण भी कई कैंसर होते हैं. इसके अलावा अल्कोहल के कारण अन्य कई तरह की बीमारियों से हम सब अवगत हैं. इसलिए आप जितना अधिक ड्रिंक करेंगे, उतनी ही परेशानी बढ़ेगी. एक अनुमान के मुताबिक शराब पीने के कारण हर साल दुनिया में एक लाख लोगों को कैंसर होता है. इसलिए शराब को हाथ न लगाएं. यह काम 20 साल के बाद से ही शुरू करें.

5. सनस्क्रीन पहनें-40 साल से नीचे में स्किन कैंसर ज्यादा देखा गया है. पिछले कुछ दशकों से यह बीमारी युवाओं में बढ़ी है. स्किन कैंसर का प्रारंभिक लक्षण अल्ट्रावायलेट रेडिएशन है. यह या तो सूरज की रोशनी से निकलती है या टैनिक बेड से. इसलिए धूप में हमेशा सनस्क्रीन चश्मा लगाकर निकलें.

Tags: Cancer, Health, Health tips, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *