November 28, 2022
पीरियड्स से पहले परेशान कर रहे हैं लूज मोशन, जानें वजह और उपचार


हाइलाइट्स

पीरियड्स के लक्षण हर महिला को अलग-अलग हो सकते हैं.
डाइजेस्टिव सिस्‍टम को सुधारने के लिए योग का सहारा ले सकते हैं.
पीरियड्स से पहले होने वाले लूज मोशन को हेल्‍दी डाइट से कंट्रोल करें.

Loose Motions Are Bothering You Before Periods – पीरियड्स में मूड स्‍विंग्‍स, गैस, सूजन और क्रैम्‍प जैसी सामान्‍य समस्‍याओं का तो लगभग सभी महिलाएं सामना करती हैं लेकिन क्‍या पीरियड्स से पहले लूज मोशन का अनुभव किया है. जी हां, कई महिलाएं इस दौरान लूज मोशन से पीड़ित होती हैं. इस समस्‍या को पीएमएस यानी प्रीमेंसट्रुअल सिम्‍पटम कहते हैं. हालांकि ये समस्‍या ज्‍यादा दिनों तक नहीं रहती लेकिन कई बार ये गंभीर भी हो जाती है. 100 में से 2-4 महिलाओं को ही इन लक्षणों का सामना करना पड़ता है. पीरियड्स के दौरान महिलाओं को चक्‍कर, कमजोरी और थकावट भी महसूस हो सकती है. पीएमएस के कई कारण हो सकते हैं जिसे जानना बेहद जरूरी है जिससे समय रहते सही उपचार किया जा सके. चलिए जानते हैं पीरियड्स के दौरान या पहले होने वाले लूज मोशन के कारण और उपचार के बारे में.

क्‍या हैं कारण हार्मोनल चेंजेज
पीरियड्स के दौरान लगभग सभी महिलाओं में हार्मोनल चेंजेज होते हैं. किसी में कम होते हैं तो किसी को अधिक परेशानी का सामना करना पड़ता है. हेल्‍थ शॉट्स के अनुसार हार्मोनल चेंजेज  के कारण लूज मोशन की समस्‍या हो सकती है.

डिप्रेशन और एंग्‍जाइटी
पीरियड्स के दौरान कई महिलाओं को डिप्रेशन और एंग्‍जाइटी की समस्‍या हो जाती है. अधिक सोचने और डिप्रेशन की वजह से डाइजेस्टिव सिस्‍टम पर असर पड़ता है जो लूज मोशन के लिए जिम्‍मेदार हो सकता है.

प्रोस्‍टाग्‍लैंडिंस
प्रोस्‍टाग्‍लैंडिंस वे केमिकल सब्‍सटेंस है जो पीरियड्स के ठी‍क पहले ब्‍लड से निकलते हैं. ये आंतों में संकुचन का कारण बनते हैं जिस वजह से लूज मोशन हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: पेट दर्द में बड़े काम आएंगे ये घरेलू उपचार

ब्रेन में बदलाव
पीरियड्स के दौरान हार्मोनल चेंजेज के अलावा ब्रेन फंक्‍शन में भी बदलाव आ सकते हैं जिसकी वजह से लूज मोशन, सिर दर्द, थकावट और अनिद्रा की समस्‍या हो सकती है.

इसे भी पढ़ें: खाने के बाद पेट में जलन और दर्द से रहते हैं परेशान, तो इन 3 घरेलू उपायों की लें मदद

ऐसे करें उपचार
– फाइबर रिच डाइट लें
– प्रोबायोटिक्‍स का करें सेवन
– लाइफस्‍टाइल में करें सुधार
– पर्याप्‍त नींद लें
–  फिटनेस रुटीन सेट करें
– पोषक तत्‍वों से भरपूर डाइट लें
–  अधिक सोडियम खाने से बचें
–  फल और सब्जियां खाएं
–  लिक्‍वड डाइट लें
–  डाइजेस्टिव सिस्‍टम के लिए योग करें
– डाइट में कैल्शियम को एड करें
– डेयरी प्रोडक्‍ट का सेवन करें

Tags: Health, Health problems, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *