November 28, 2022
पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करने के क्या हैं लाभ, इन चीजों से दूर रहने पर मिलेगा बेहतर रिजल्ट


हाइलाइट्स

पीरियड्स में एक्सरसाइज करने से इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता हैं.
इससे पीरियड्स कैलेंडर ट्रैक पर आ जाता है

Exercise During Periods: पीरियड्स के दिनों में किसी भी महिला के लिए थकान और दर्द का सामना करना एक समान्य लक्षण है. पीरियड्स के दिन हर महिला या लड़की के लिए सबसे पेनफुल दिन होते हैं. लगातार होने वाली ब्लीडिंग से काफी कमजोरी भी महसूस होती है. ऐसी स्थिति में महिलाएं ज्यादा से ज्यादा आराम करना पसंद करती हैं. लेकिन पीरियड्स के दौरान महिलाओं को अपने एक्सरसाइज के रूटीन को ब्रेक नहीं करना चाहिए.

कई महिलाएं हैं जो ये सोचती हैं, कि अगर वो पीरियड्स में एक्सरसाइज करेंगी तो उन्हें ज्यादा दर्द महसूस होगा, यह जोकि एक गलत सोच है. नियमित रूप से एक्सरसाइज करने से मेंटली, फिजिकली, और पीरियड्स के दर्द से आराम मिल सकता है. इसके कई और भी फायदे हैं, लेकिन कुछ चीजों से दूरी बनानी भी जरूरी है.

पीरियड्स में एक्सरसाइज के फायदे
पीएमएस के लक्षण होंगे कम
फ्लो डॉट हेल्थ डॉट कॉम के मुताबिक पीरियड्स के दौरान कुछ शारीरिक फिजिकल ओर केमिकल चेंजेज होते हैं. जिन्हें एक्सरसाइज से कंट्रोल किया जा सकता है. एक्सरसाइज करने से एंडोर्फिन जिसे कि फील गुड हार्मोन कहा जाता है, वह रिलीज होता है और उससे एंजायटी, डिप्रैशन,पेन और मूड ठीक होता है.

– ऐसे में हर रोज एरोबिक एक्सरसाइज करने से दर्द कम करने में मदद मिल सकती है. पीरियड्स के दौरान जितनी क्षमता हो सिर्फ उतनी ही एक्सरसाइज कीजिये.

ऐंठन होगी कम
पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करने से ब्लड सर्क्युलेशन सही रहता है, और पीरियड्स के ऐंठन को कम करने में मदद मिलती है. पीरियड्स में एक्सरसाइज करने से एनाल्जेसिया से भी राहत मिल सकती है.

पीरियड्स में नहीं होगी गड़बड़ी
कई महिलाओं को अनियमित पीरियड्स होने की शिकायत होती है. पीरियड्स में एक्सरसाइज करने से इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता हैं. इससे पीरियड्स कैलेंडर ट्रैक पर आ जाता है.

यह भी पढ़ेंः यूरिक एसिड बढ़ने से किडनी फेलियर का खतरा, जानें इसे कंट्रोल करने का तरीका

बनी रहती है एनर्जी
पीरियड्स के दौरान आलस और थकान होना आम बात है. अगर पीरियड्स के दौरान नियमित रूप से एक्सरसाइज की जाए तो पूरा दिन शरीर में एनर्जी बनी रहती है.

मूड होगा बूस्ट
पीरियड्स में महिलाओं का स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल काफी बढ़ जाता है. एक्सरसाइज करने से इसे संतुलित करने में मदद मिलती है, जिस वजह से मूड भी बूस्ट हो जाता है.

यह भी पढ़ेंः ज्यादा तनाव की वजह से घट सकता है वजन? रिसर्च में सामने आया कनेक्शन

किन चीजों से दूर रहेना बेहतर?
-पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करते वक्त शरीर को ज्यादा तनाव ना दें.
-पीरियड्स के दौरान ज्यादा लंबे वक्त तक एक्सरसाइज करने से बचें.
-पीरियड्स के दौरान जब भी एक्सरसाइज करें तो उसकी अवधि आधे घंटे की रखें.

-एक्सरसाइज के वक्त जी मिचलाना, उल्टी महसूस होने जैसी समस्याएं हों तो एक्सरसाइज करना रोक दें.
-पीरियड्स के दौरान शरीर जितना सह सके उसे सिर्फ उतनी ही थकान दें, उससे ज्यादा नहीं.
पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करना काफी हद तक फायदेमंद है, लेकिन कुछ सतर्कता बरतते हुए, इसके ज्यादा फायदे मिल सकते हैं.

Tags: Health, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *