November 28, 2022
पाचन और डायबिटीज में कसावा के आटे का सेवन रहेगा फायदेमंद, जानिए पोषक वैल्यू


हाइलाइट्स

नियमित सेवन से बढ़िया रहेगा पाचन तंत्र.
तले भुने खाने से भी बरतें दूरियां.

Cassava Flour to Reduce Diabetes: आज कल बिमारियां घर घर में हैं और डायबटीज तो लाइफ स्टाइल की बीमारी बन चुकी है. भारत में इसका आंकड़ा हर दिन बढ़ता ही जा रहा है, ऐसे में जरूरी है कि आप अपना ख्याल रखें, लेकिन ख्याल रखने के साथ जरूरी है कि आप अपने डाइट का भी ध्यान रखें. इसीलिए हम आज आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसी चीज़ के बारे में जिसके सेवन से आप अपना शुगर तो कंट्रोल कर ही सकते हैं लेकिन अगर आप इसका नियमित सेवन करें औऱ एक हेल्दी लाइफ-स्टाइल मेंटेन करें तो आप अपनी कई और बीमारियों को जड़ से खत्म कर सकते हैं. तो चलिए आपको बताते है कसावा के बारे में जिसके आटे के सेवन से आफ शुगर कंट्रोल कर सकते हैं.

क्या होता है कसावा?
कसावा का आटा कसावा नाम की झाड़ियों की जड़ से बनाया जाता है. कसावा का ओरिजन मुख्य रूप से साउथ अमेरिका और मेक्सिको से है जहां इसका अत्यधिक इस्तेमाल बेकिंग में किया जाता है. ये मुख्य रूप से रेग्यूलर आटे का एक विकल्प है जिससे पास्ता, नूडल्स, यहां तक कि ड्रिंक्स भी बनायी जाती है.  

पोषक की मात्रा
कसावा का आटा फाइबर, प्रोटीन और मिनरल्स से भरपूर होता है. लेकिन इससे भी बड़ा गुण ये है कि ये आटा ग्लूटन-फ्री होता है जिसके कारण आपके शरीर में शुगर पार्टिकल्स नहीं जमा होते.

ग्लूटेन फ्री
स्टाइलक्रेज के मुताबिक, कसावा ग्लूटेन फ्री होता है. इसलिए इसका सेवन सीलिएक में फायदेमंद हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: रात में गहरी नींद सोने के लिए करें ये 5 उपाय, सुबह मूड रहेगा फ्रेश

यह भी पढ़ेंः मच्छरों से बचने के लिए इस्तेमाल कर रहे क्रीम या ऑयल तो जान लीजिए खतरे

एंटीआक्सीडेंट
कसावा के आटे में फिनोलिक, कैरोटिनॉइड और विटामिन सी जैसे एंटी आक्सीडेंट होते हैं जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस कम करते हैं.

Tags: Health, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *