कैक्टस कटीली झाड़ी ही नहीं, इसका जूस पीने से हड्डियों की सूजन होती है दूर, जानें अन्य लाभ » Br Breaking News
December 7, 2022
कैक्टस कटीली झाड़ी ही नहीं, इसका जूस पीने से हड्डियों की सूजन होती है दूर, जानें अन्य लाभ


हाइलाइट्स

कैक्टस के पौधों में होते हैं कई औषधीय गुण.
कैक्टस जूस से सेहत में ला सकते हैं सुधार.

Benefits of Cactus Juice: आज हम आपको उस खास पौधे के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे लेकर आप सोच भी नहीं सकते कि रेत में उगने वाले इस पौधे में इतने औषधीय गुण मौजूद हैं. जी हां हम बात कर रहे हैं कैक्टस प्लांट की जिसके जूस से आप एक नहीं कई बीमारियों का इलाज कर सकते हैं. अगर आपको यकीन नहीं है तो ये सच है. माना कि कैक्टस अभी इतना प्रचलन में नहीं है. दरअसल ये रेतीला पौधा अपने आप में कई औषधीय गुणों का मालिक है. वैज्ञानिकों द्वारा किए गए शोध से पता चलता है कि, कैक्टस के जूस के सेवन से आप अपने ज्वाइंट पेन को खत्म कर सकते हैं.  आइए जानते हैं विस्तार से.

इसे भी पढ़ें: Sound Sleep Benefits: अच्छी और गहरी नींद लेने के ये हैं 5 बड़े फायदे

कैक्टस जूस से सेहत को होने वाले फायदे
इसका इस्तेमाल भारत में बहुत कम है लेकिन ऑपुन्शिया-इंडिका के नाम का ये पौधा एक ऐसा पौधा है जिसमें खनिज़ त्तवों की कोई कमी नहीं हैं. इसका जूस अकेले माइग्रेन, सूजन,पेट संबंधी परेशानियों को ठीक करने में सक्षम है. इसमें पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट तत्व आपके स्किन से जुड़ी समस्याओं औऱ एजिंग को रोकने में मददगार है. खास बात ये है कि महिलाओं के पीरियड्स के दर्द में भी ये रामबाण का काम करता  है.

स्टाइलक्रेज़ के मुताबिक, कैक्टस के जूस से जोड़ों की सूजन कम होती है, क्योंकि इसमें मौजूद ल्यूकोसाइट माइग्रेशन कैटालिस्ट की तरह काम करता है. यह विटामिन ए, बी टू और विटामिन सी का रिच सोर्स है. इससे गठिया के कारण होने वाली सूजन और दर्द में आराम मिल सकता है.

-कुछ रिसर्च से पता चला है कि यह कैंसर को कम करता है. क्योंकि इसमें बीटालेन एंटी ऑक्सीडेंट होता है.
-यही नहीं यदि रोजाना कैक्टस का जूस का सेवन किया जाए तो, LDL कोलेस्ट्रॉल लेवल 30 प्रतिशत तक कम हो सकता है. जिसकी मुख्य वजह इस के जूस में मौजूद सॉल्युबल फाइबर है. जो कि एलडीएल कोलेस्ट्रॉल लेवल घटाने में सहायक होते हैं. साथ ही इसके प्रयोग से ऑक्सीडेशन फैट भी कम होता है.

यह भी पढ़ेंः क्या नॉनवेज खाने से हो सकते हैं मोटापे का शिकार? यहां जानें हकीकत

Tags: Health, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *