एल्युमीनियम, स्टील या मिट्टी के बर्तन, स्वस्थ रहने के लिए किसमें खाना पकाना है बेस्ट? जानें एक्सपर्ट की सलाह » Br Breaking News
December 7, 2022
एल्युमीनियम, स्टील या मिट्टी के बर्तन, स्वस्थ रहने के लिए किसमें खाना पकाना है बेस्ट? जानें एक्सपर्ट की सलाह


हाइलाइट्स

नॉन-स्टिक बर्तन टेफ्लॉन कोटेड होते हैं, जो सेहत के लिए हानिकारक है.
आयरन के बर्तन में खाना बनाना हेल्थ के लिए बेस्ट होता है.
मिट्टी के बर्तन में खाना पकाना हेल्दी है.

Which  Utensil is good for Health: हर कोई अपनी-अपनी पसंद के बर्तनों में खाना बनाता और खाता है. कोई एल्युमीनियम के बर्तन में खाना पकाता है तो कुछ लोग स्टेनलेस स्टील में भोजन पकाते हैं. वहीं, छोटे शहरों और गांव की बात करें तो आज भी आयरन, मिट्टी के बर्तनों को खाना बनाने के लिए खूब इस्तेमाल किया जाता है. क्या आपने कभी इस बात पर गौर किया है कि आप खाना बनाने के लिए जिस तरह के भी मेटल से बने बर्तनों का इस्तेमाल करते हैं, वह आपकी सेहत को क्या फायदे-नुकसान पहुंचाते हैं? शारीरिक रूप से हेल्दी और फिट रहने के लिए बहुत ज़रूरी है कि आप सही बर्तनों में खाना पकाएं और खाएं.

ऐसा इसलिए, क्योंकि कुछ यूटेंसिल्स में टॉक्सिक केमिकल्स होते हैं, जो भोजन में रिसकर उसे दूषित कर सकते हैं. ऐसे में आपके लिए ये जानना बहुत ज़रूरी है कि खाना बनाने के लिए कौन सा बर्तन बेस्ट है. आयुर्वेद और गट हेल्थ कोच डॉ. डिंपल जंगडा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस पर बेहद अच्छी और विस्तृत जानकारी वीडियो के जरिए शेयर की है. आप भी जानें डॉ. डिंपल किन बर्तनों को सेहत के लिए बता रही हैं बेस्ट और किसे कह रही हैं इस्तेमाल करने से मना.

इसे भी पढ़ें: फूल के बर्तनों के बारे में जानते हैं आप? इनके इस्तेमाल से मिलते हैं ये फायदे

स्टेनलेस स्टील के बर्तन- इस तरह के बर्तनों का इस्तेमाल खाना बनाने और खाने के लिए सबसे ज्यादा लोग करते हैं. साथ ही आप इसमें कई प्रकार के व्यंजन भी बना सकते हैं. इसमें भोजन भी जल्दी बनता है, लेकिन स्टेनलेस स्टील के बर्तनों में खाना पकाते समय भोजन में मौजूद पोषक तत्व सिर्फ 60-70 प्रतिशत ही बरकरार रह पाता है. क्रोमियम या निकल से पॉलिश किए गए स्टेनलेस स्टील के बर्तनों को भूलकर भी ना खरीदें, क्योंकि ये सेहत के लिए हानिकराक साबित हो सकते हैं.

आयरन के बर्तन- आयरन के बर्तन में खाना बनाना हेल्थ के लिए बेस्ट होता है. यह अन्य कुकवेयर यूटेंसिल के मुकाबले सबसे अधिक स्वास्थ्य लाभ देता है. कास्ट आयरन या कच्चे लोहे के बर्तनों में जब आप भोजन पकाते हैं तो बेहद कम मात्रा में आयरन आपके भोजन में घुलता या रिसता है, जो शरीर के लिए हेल्दी हो सकता है. हालांकि, जिनके शरीर में आयरन अत्यधिक मात्रा में (थैलेसीमिया मेजर) हो, उन्हें कच्चे लोहे के बर्तनों में खाना पकाने से बचना चाहिए, क्योंकि आज जो कास्ट आयरन के बर्तन बनने लगे हैं, वे एक खास तरह की कोटिंग के साथ आते हैं.

नॉन-स्टिक कुकवेयर- आजकल नॉन-स्टिक बर्तनों का लोग खूब इस्तेमाल करते हैं. दरअसल, इसमें कुछ भी पकाने से वे जल्दी चिपकता या जलता नहीं है. लेकिन, आमतौर पर ये नॉन-स्टिक बर्तन टेफ्लॉन से कोटेड होते हैं, जिसमें कैडमियम और मरकरी जैसी सामग्री होती है. ये सेहत के लिए बेहद हानिकारक हो सकते हैं. इनसे कई प्रकार के कैंसर, किडनी, लिवर डिजीज, हार्ट डिजीज, मेंटर प्रॉब्लम्स, नर्व डिसऑर्डर जैसी समस्याएं होने का जोखिम रहता है.

एल्युमीनियम के बर्तन- यह एक प्रकार का थायरोटॉक्सिक मेटल होता है, जो आसानी से खाना पकाते समय भोजन में घुल जाता है. एल्युमीनियम के बर्तनों को लगातार इस्तेमाल करने से कई तरह की गंभीर शारीरिक समस्याओं जैसे लिवर डिसऑर्डर, कब्ज, पैरालिसिस या लकवा, मस्तिष्क विकारों आदि को ट्रिगर कर सकता है.

सिरैमिक यूटेंसिल- कुछ लोग सेरैमिक के बर्तनों में भी खाना खाने, पकाने का शौक रखते हैं. इसमें बहुत पतली सी सिरैमिक कोटिंग के साथ ही नीचे की तरफ एल्युमीनियम की कोटिंग भी होती है. यह सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक साबित हो सकता है. यदि आपको सिरैमिक कुकवेयर का इस्तेमाल करना है, तो सुनिश्चित करें कि आप हेवी सिरैमिक कोटिंग वाले ही बर्तन खरीदें.

मिट्टी के बर्तन- आज भी छोटे शहरों और गांवों में लोग खाना बनाने के लिए मिट्टी के बर्तनों का इस्तेमाल करते हैं. दरअसल, मिट्टी धीरे-धीरे गर्म होती है. ऐसे में भोजन की नमी और पोषक तत्वों को बनाए रखने में मदद करती है. हालांकि, इसमें खाना पकाने में समय काफी लगता है, लेकिन ये अन्य बर्तनों की तुलना में बेस्ट है. इससे सेहत को किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है.

ब्रोंज के बर्तन- ब्रोंज यानी कांस्य के बर्तन में जब आप खाना बनाते हैं तो लगभग 97 प्रतिशत पोषक तत्व मौजूद होते हैं. हालांकि, टिन या निकल कोटिंग के साथ आने वाले किसी भी ब्रोंज के बर्तनों का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे स्वास्थ्य को खतरा हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: तांबे के बर्तन साफ करने के आसान घरेलू उपाय

ब्रास के बर्तन- पीतल के बर्तन में जब आप खाना बनाते हैं तो लगभग 90 प्रतिशत पोषक तत्व बरकरार रहते हैं, लेकिन पीतल के बर्तनों की साफ-सफाई में काफी ध्यान देने की जरूरत होती है. इसके अलावा, ब्रास यूटेंसिल में एसिडिक या फिर साइट्रिक खाद्य पदार्थों को भूलकर भी नहीं पकाना चाहिए वरना सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं.

मुख्य बात- आपको हेल्दी रहना है तो आप स्टेनलेस स्टील के बर्तन, मिट्टी के बर्तन, आयरन के बर्तन में खाना पका कर खाएं, लेकिन एल्युमीनियम, सिरैमिक, नॉन-स्टिक कुकवेयर के अधिक इस्तेमाल से बचना चाहिए.

Tags: Health, Lifestyle





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *